Sale!

Ashwagandhadi churna

160.00 152.00

अश्वगंधा चूर्ण या पाउडर का आयुर्वेद में उपयोग ओलिगोस्पर्मिया, एज़ोस्पर्मिया, नपुंसकता, महिला बांझपन के इलाज के लिए किया जाता है। अश्वगंधा जड़ का पाउडर प्रजनन प्रणाली के लिए एक अच्छा टॉनिक है, विशेष रूप से पुरुषों के लिए। इसे इंडियन जिनसेंग के नाम से भी जाना जाता है। यह शुक्राणु की गतिशीलता में सुधार करता है। यह ओलिगोस्पर्मिया (शुक्राणुओं की संख्या में वृद्धि), खराब यौन प्रदर्शन में भी उपयोगी है और बांझपन को कम करने में मदद करता है। अश्वगंधा यौन शक्ति और शुक्राणु उत्पादन में सुधार करता है। अश्वगंधा कुछ स्त्रीरोग संबंधी स्थितियों में भी दिया जाता है। यह गर्भाशय की मांसपेशियों के लिए उत्कृष्ट टॉनिक है और मासिक धर्म के असंतुलन (जो वात और गर्भाशय की ऐंठन, कष्टार्तव, रक्तस्राव, कमजोरी के कारण होता है) में भी दिया जाता है

AshwagandhaChurna or powder in ayurveda is used to treat oligospermia, azoospermia, impotency, female infertility. Ashwagandha root powder is a good rejuvenating tonic for reproductive system, especially for males. It is also known as Indian Ginseng. It improves sperm motility. It is also useful in oligospermia (increasing sperm count), poor sexual performance and helps to reduce infertility. Ashwagandha improves sexual potency and sperm production. Ashwagandha is also given in few gynaecological conditions. It is excellent tonic to the uterine muscles and indicated in menstrual imbalance caused by a deficient condition with an aggravation of vata and uterine spasms, dysmenorrhoea, amenorrhoea, weakness.

Compare

Description

This product is sold to you on the promises that you have received advice from a doctor and that you are not self medicating.

Packing :                     

100 gms.

Ingredients :

Ashwagandhadichurna is made Ashwagandha and Vidhara

Benifits :

  • तनाव, चिंता और अवसाद से छुटकारा दिलाता है (Relieves stress, anxiety and depression)
  • अल्प शुक्राणुता (Oligospermia)
  • स्तंभन दोष (Erectile dysfunction)
  • शीघ्रपतन (Premature ejaculation)
  • सामान्य दुर्बलता (General debility)
  • मधुमेही न्यूरोपैथी (Diabetic neuropathy)
  • कामोद्दीपक (Aphrodisiac)
  • गठिया वाय और सूजन मे आराम देता है  (Rhuematoid Arthritis & Inflammation)

 

Side Effects :

कोई नहीं   (None)

RecommandedDosages :           

3-6 ग्राम दिन मे दो बार दोपहर एवं रात के  भोजन के बाद या चिकित्सक के परामर्शनुसार   (3-6 gram twice daily after lunch and after dinner or as directed by physician.)

Average Course: 

60 days

 

 

 

Additional information

Weight 180 g

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “Ashwagandhadi churna”

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Free Cash on Delivery on Order above Rs. 500/-